DDU Gorakhpur Exam 2020 :- दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय में 7 जुलाई से शुरू होंगी शेष परीक्षाए, गोरखपुर विश्वविद्यालय की बची हुई परीक्षा सात जुलाई से आठ अगस्त तक होंगी। कोरोना महामारी की वजह से गोरखपुर विश्वविद्यालय की रुकी हुई परीक्षाएं 7 जुलाई से शुरू हो रही है। आज दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय ने बचे हुए एग्जाम्स के शेड्यूल जारी कर दिए है।

DDU Gorakhpur Exam 2020 – 7 जुलाई से पुनः शुरू होंगी DDU की बची हुई परीक्षा, देखें Time Table

गोरखपुर विश्वविद्यालय ने जारी किया टाइम टेबल, 7 जुलाई से एग्जाम शुरू

विश्वविद्यायल ने अपना टाइम टेबल जारी कर दिया है। परीक्षा नियंत्रक डॉ अमरेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि स्नातक एवं परास्नातक अंतिम वर्ष की परीक्षा सुबह 8 बजे से 11 बजे तक जबकि प्रथम एवं द्वितीय वर्ष की परीक्षा दोपहर 2 बजे से 5 बजे तक होगी। उन्होंने बताया कि जिन विषयों की परीक्षा पूर्व में हो चुकी है उसका मूल्यांकन मंगलवार से शुरू करा दिया गया है। कोशिश की जाएगी कि परीक्षा समाप्त होने के 15 दिन बाद परिणाम घोषित कर दिया जाए।

 
हालांकि इसको लेकर कई छात्र संगठनों और छात्र नेताओं ने अपना विरोध दर्ज कराया है लेकिन प्रदेश सरकार से एग्जाम कराने की गाइडलाइन मिलने के बाद गोरखपुर विश्वविद्यालय एहतियात बरतते हुए बचे हुए एग्जाम कराने का फैसला लिया है।


इसके लिए विश्वविद्यालय के अलग-अलग भवनों को सैनिटाइजेशन का काम शुरू किया गया है। एग्जाम में भी सभी तरह के एहतियात बरती जाएंगी। सभी छात्रों को एग्जाम हॉल में एंट्री से पहले स्क्रीनिंग से गुजरना होगा।

हर एग्जाम के पहले एग्जाम सेंटर को पूरी तरह से सैनिटाइज किया जाएगा। बुखार और खांसी से पीड़ित छात्रों को एग्जाम देने की अनुमति नहीं होगी। छात्रों को मास्क पहनकर एग्जाम देना होगा।

विश्वविद्यालय ने इससे पहले एक एडवाइजरी जारी की थी जो कि इस प्रकार थी :-

समस्त संबंधित परीक्षार्थी/ केंद्र अध्यक्ष/ प्राचार्य /कक्ष परीक्षक, विश्वविद्यालय परीक्षा केंद्र एवं समस्त संबद्ध महाविद्यालयों को सूचित किया जाता है कि Lockdown के पश्चात शासन के निर्देशानुसार परीक्षा की प्रक्रिया प्रारंभ होंगी जिसमें-
(Annual examination for the year 2020 of DDU Gorakhpur University has been cancelled due to Covid-19 (Corona virus) to prevent global epidemic due to lock-down. But now it is preparing to restart the remain examination of finial year students. In order to restart the examination following advisory for students are decided in which- )

  • प्रत्येक परीक्षार्थी को परीक्षा के समय मास्क या गमछे से अपना नाक और मुँह ढककर रखना अनिवार्य होगा।
  • परीक्षा केन्द्र पर सेनेटाइजर की व्यवस्था अनिवार्य होगी, छात्र स्वयं भी सेनेटाइजर रख सकते हैं। 
  • प्रत्येक परीक्षा के पूर्व परीक्षा कक्ष सेनेटाइज कराया जायेगा। विश्वविद्यालय द्वारा निर्धारित प्रत्येक परीक्षा केन्द्र पर हाथ धोने के लिए साबुन व पानी की व्यवस्था अनिवार्य होगी।
  • यदि किसी परीक्षार्थी को किसी कारण से बुखार/जुखाम/छींक आ रही है, तो उसकी परीक्षा की व्यवस्था अलग कमरे में होगी।
  • विश्वविद्यालय परीक्षा केन्द्र पर सम्मिलित होने वाले छात्रों के लिए थर्मल स्कैनर की व्यवस्था होगी ताकि छात्रों की थर्मल स्क्रीनिंग की जा सके।
  • महाविद्यालय भी अपने स्तर से छात्रहित में थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था कराएंगे।
  • छात्रों को सोशल डिस्टेसिंग का पालन करना अनिवार्य होगा, दो छात्रों के बैठने की दूरी समुचित रहेगी। 
  • इसके लिए परीक्षा कक्षों की संख्या बढ़ायी जा सकती है। परीक्षा केन्द्र पर छात्रों के साथ-साथ कक्ष निरीक्षकों/कर्मचारियों आदि को भी सोशल डिस्टेसिंग व आवश्यक सतर्कता का पालन कराना अनिवार्य होगा!
  • परीक्षा शीघ्र हों, कराये जाने के निर्देश के क्रम मे रविवार व छुट्टियों के दिन भी परीक्षा करायी जायेगी। 
  • वर्तमान विषम परिस्थियों के कारण छात्रों के प्रश्नपत्रों के बीच किसी भी प्रकार का गैप देना अनिवार्य नहीं होगा। 
  • छात्र लॉक डाउन की अवधि में परीक्षा की तैयारी करते रहें।
  • एक्जाम सेंटर ( परीक्षा केन्द्र ) पर परीक्षार्थियों की संख्या के अनुरूप केन्द्राध्यक्ष परिस्थिति अनुरूप अपने विवेक से परीक्षा कक्ष में छात्रों की इंट्री 30 मिनट / 45 मिनट / 1 घंटा पूर्व कराना सुनिश्चित करेंगे।
  • छात्रों को परीक्षा केन्द्र पर परीक्षा से 1 घंटा पूर्व आना होगा ताकि उनका स्वास्थ्य आदि की समुचित परीक्षण हो सके।

Download Previous Year Question Papers Click Here

पहले दिन जांची गई आठ हजार कॉपियां

मंगलवार से विश्वविद्यालय में केंद्रीय मूल्यांकन शुरु हो गया। स्नातक के सभी वर्षों की कॉपियों की जांच शुरू हुई। विश्वविद्यालय में करीब चार लाख कॉपियों को जांचना है। पहले दिन 8000 कापियां जांची गई। पहले दिन मूल्यांकन केन्द्र पर 90 शिक्षक पहुंचे। केन्द्र पर प्रवेश के दौरान शिक्षकों की थर्मल स्कैनर से जांच हुई। फौरी तौर पर गोरखपुर, देवरिया और कुशीनगर के शिक्षक कॉपियों को जांच रहे हैं।
 

अगस्त के मध्य तक घोषित हो जाएगा स्नातक का रिजल्ट 

परीक्षा नियंत्रक ने बताया कि स्नातक अंतिम वर्ष की परीक्षा सात जुलाई से शुरू हो रही है। अंतिम वर्ष की परीक्षा 8 अगस्त को खत्म हो रही है। आगामी 29 जुलाई को बीएड प्रवेश परीक्षा है। बीएड में स्नातक छात्रों का प्रवेश बाधित ना हों। इसको देखते हुए अगस्त के दूसरे हफ्ते में स्नातक अंतिम वर्ष रिजल्ट घोषित कर दिया जाएगा। 

Post a Comment

Thanks for your comments.

Previous Post Next Post