दोस्तों इस आर्टिकल में UPSSSC Mukhya Sevika Recruitment 2022 के कुल 2693 पद के लिए होने वाले परीक्षा के लिए Practice Set - 18 (प्रैक्टिस सेट) आप सभी के साथ शेयर किया जा रहा है जिसमें "परामर्श: इसका अर्थ, आवश्यकता और तकनीक, प्रभावी संचार और इसके कौशल। (Counselling: its meaning, need and techniques, effective communication and its skills.)" से संबंधित लगभग सभी प्रश्नों को शामिल किया गया है। हमें उम्मीद है आने वाली परीक्षा में यह आप सभी के लिए काफी मददगार साबित होगा। इसके अलावा आप और भी प्रैक्टिस सेट देख सकते हैं जिसका लिंक इस आर्टिकल के अंत में दिया गया है। इसलिए प्रैक्टिस सेट के प्रश्नों को पढ़ने के बाद आप दूसरे प्रैक्टिस सेट जरूर देखें।

Practice Set - 18, UPSSSC Mukhya Sevika Recruitment 2022, परामर्श: इसका अर्थ, आवश्यकता और तकनीक, प्रभावी संचार और इसके कौशल
UPSSSC Mukhya Sevika Practice Set 18

UP Mukhya Sevika Bharti 2022 (UP ICDS आंगनवाड़ी मुख्य सेविका) Practice Set - 18

Topic - परामर्श: इसका अर्थ, आवश्यकता और तकनीक, प्रभावी संचार और इसके कौशल। (Counselling: its meaning, need and techniques, effective communication and its skills.)

प्रश्न:- परामर्श का शाब्दिक अर्थ होता है?
(अ)- सलाह लेना या परामर्श लेना
(ब)- प्रशिक्षण देना
(स)- सलाह देना
(द)- उपर्युक्त सभी
उत्तर:- (अ)- सलाह लेना या परामर्श लेना

प्रश्न:- किस समाजशास्त्री के अनुसार, 'परामर्श प्रक्रिया समस्या समाधान का सम्मिलित प्रयास है?'
(अ)- रॉबिन्स
(ब)- मार्यस
(स)- रुट स्ट्रांग
(द)- उपर्युक्त सभी
उत्तर:- (स)- रुट स्ट्रांग

प्रश्न:- परामर्श प्रक्रिया का सबसे महत्त्वपूर्ण घटक होता है?
(अ)- बौद्धिक प्रक्रिया
(ब)- लक्ष्य निर्धारण करना
(स)- समस्या का परिचय
(द)- उपर्युक्त सभी 
उत्तर:- (ब)- लक्ष्य निर्धारण करना

प्रश्न:- परामर्श की मुख्य विशेषताएँ हैं-
(अ)- सौहार्दपूर्ण वातावरण
(ब)- समस्या समाधान में सहायता
(स)- प्रार्थी स्वयं निर्णय लेने में सक्षम
(द)- उपर्युक्त सभी
उत्तर:- (द)- उपर्युक्त सभी

प्रश्न:- विलियमसन और हरले के अनुसार परामर्श प्रक्रिया के कितने पद होते हैं-
(अ)- 3
(ब)- 4
(स)- 5
(द)- 6
उत्तर:- (द)- 6

प्रश्न:- निम्न में से परामर्श का सिद्धान्त है-
(1):-स्वीकृति का सिद्धान्त
(2):-सीखने का सिद्धान्न
(3):-विश्लेषण का सिद्धांत
(4):-व्यक्ति के सम्मान का सिद्धान्त

(अ)- 1,2,3
(ब)- 2,3,4
(स)- 1,2,4
(द)- 1,3,4
उत्तर:- (स)- 1,2,4

प्रश्न:- परामर्श की विधियों में सम्मिलित होता है-
(अ)- मौन धारण
(ब)- स्वीकृति
(स)- पुनरावृत्ति
(द)- उपर्युक्त सभी
उत्तर:- (द)- उपर्युक्त सभी

प्रश्न:- संचार में निष्यंदन के बुरे प्रभाव को कम करने के लिए किस उपाय का प्रयोग किया जाता है? 
(अ)- लघुपरिधिकरण
(ब)- स्पर्शीय संचार
(स)- गतिकी
(द)- पराभाषा
उत्तर:- (ब)- स्पर्शीय संचार

प्रश्न:- औपचारिक दिशा निर्देश एवं प्राधिकार पदानुक्रम संचार के किस प्रकार्य के उदाहरण हैं?
(अ)- सूचना
(ब)- नियंत्रण
(स)- समझौता
(द)- संगठन
उत्तर:- (ब)- नियंत्रण

प्रश्न:- संचार का वह साधन जो बहुत सारे आदाताओं को एक स्त्रोत से एक साथ सूचना प्रसारित करता है, कहलाता है?
(अ)- जन सम्प्रेषण
(ब)- अन्तः वैयक्तिक सम्प्रेषण
(स)- अन्तर्वैयक्तिक सम्प्रेषण
(द)- अन्तः समूह सम्प्रेषण
उत्तर:- (अ)- जन सम्प्रेषण

प्रश्न:- निम्नलिखित में से कौन-सा एक सम्पर्क कौशल नहीं है?
(अ)- बोलना
(ब)- सुनना
(स)- तैरना
(द)- हाथ लहराना
उत्तर:- (स)- तैरना

प्रश्न:- निम्नलिखित में से कौन सा सम्प्रेषण में सबसे अधिक सहायक श्रव्य कौशल है?
(अ)- निष्क्रिय श्रव्य
(ब)- सक्रिय श्रव्य
(स)- प्रतियोगी श्रव्य
(द)- पूर्वाग्रही श्रव्य
उत्तर:- (ब)- सक्रिय श्रव्य

प्रश्न:- निम्न में से क्या संचार कौशल में बाधक नहीं है?
(अ)- भावनात्मकता
(ब)- संक्षिप्तता
(स)- सीमित शब्दावली
(द)- वरिष्ठों का भय
उत्तर:- (ब)- संक्षिप्तता

प्रश्न:- संचार पर्यावरण (Environment) के प्रमुख अंग हैं-
(I) सन्देश (Message)
 (II) उत्तर (Response)
(III) माध्यम (Channel)
(IV) टेलीफोन (Telephone)

सही कोड चुनिए-
(अ)- I, III और IV
(ब)- I, II और III
(स)- I, II और IV
(द)- II, III और IV
उत्तर:- (ब)- I, II और III

प्रश्न:- किसी भी प्रकार के सम्प्रेषण में निम्नलिखित सम्मिलित हैं-
(i) एक प्रेषणकर्ता
(ii) एक संदेश
(iii) एक वाक्य
(iv) एक प्राप्तकर्ता

निम्नलिखित में से सही कोड चुनिए-
(अ)- केवल (ii), (iii) व (iv)
(ब)- केवल (i), (ii) व (iii)
(स)- केवल (i), (iii) व (iv)
(द)- केवल (i), (ii) व (iv)
उत्तर:- (द)- केवल (i), (ii) व (iv)

प्रश्न:- परामर्श किन दों व्यक्तियों की लिप्तता होती हैं? 
(1):-परामर्शक
(2):-परामर्शदाता
(3):-परामर्शपार्थी
(4):-प्रशिक्षक

(अ)- 1,2,3
(ब)- 2,3,4
(स)- 3,4
(द)- 1,2
उत्तर:- (अ)- 1,2,3

प्रश्न:- व्यवसाय तथा जीवन की किसी भी समस्या के समाधान हेतु दी जाने वाली वैचारिक सहायता क्या कहलाती है?
(अ)- प्रशिक्षण
(ब)- परामर्श
(स)- आदेश
(द)- पूर्वानुमान 
उत्तर:- (ब)- परामर्श

प्रश्न:- संश्लेषण शब्द का प्रयोग किस प्रक्रिया में किया जाता है?
(अ)- परामर्श की प्रक्रिया में
(ब)- विश्लेषण की प्रक्रिया में
(स)- उद्देश्य की प्रक्रिया में
(द)- निर्देशन की प्रक्रिया में
उत्तर:- (अ)- परामर्श की प्रक्रिया में

प्रश्न:- समन्वित परामर्श में कौन-कौन से परामर्श का संयोग है?
(1):-निर्देशित
(2):-सामूहिक
(3):-अनिर्देशित 
(4):-व्यक्तिक

(अ)- 1,2
(ब)- 3,4
(स)- 1,3
(द)- 2,4
उत्तर:- (स)- 1,3

प्रश्न:- किसी व्यक्ति को अपनी मनोस्थिति में सुधार करके अपनी समस्याओं पर निर्णय लेने के लिए किसकी आवश्यकता पड़ती है?
(अ)- कार्यक्षमता की
(ब)- संगठन की 
(स)- परामर्श की
(द)- सूचना की
उत्तर:- (स)- परामर्श की

प्रश्न:- स्पर्शीय संचार की आवश्यकता क्यो पड़ती है?
(अ)- अपनी बात दूसरो तक पहुंचाने के लिए
(ब)- समस्या का समाधान करने के लिए
(स)- संचार में निष्पंदन के बुरे प्रभाव को कम करने के लिए
(द)- उपर्युक्त सभी
उत्तर:- (स)- संचार में निष्पंदन के बुरे प्रभाव को कम करने के लिए

प्रश्न:- किसी भी संचार में सूचना प्राप्त करने वाले को क्या कहा जाता हैं? 
(अ)- कुटलेखन
(ब)- कुटवाचक 
(स)- कुटानुवाद 
(द)- पराभाषा
उत्तर:- (ब)- कुटवाचक

प्रश्न:- संगठनों में पदानुक्रम एवं दिशानिर्देशात्मक संचार किस प्रकार चलता है?
(अ)- उपर से नीचे की ओर
(ब)- नीचे से उपर की ओर
(स)- 'अ' और 'ब' दोनों 
(द)- कोई नहीं
उत्तर:- (अ)- उपर से नीचे की ओर

प्रश्न:- व्यक्तित्व विकास का सर्वाधिक मजबूत कौशल क्या है?
(अ)- सक्रिय श्रव्य 
(ब)- सरल भाषा
(स)- संवाद 
(द)- पूर्वाग्रही श्रव्य
उत्तर:- (स)- संवाद 

प्रश्न:- किसी भी प्रकार के सम्प्रेषण में कितने तत्व महत्वपूर्ण है?
(अ)- 4
(ब)- 7
(स)- 9
(द)- 5
उत्तर:- (द)- 5

प्रश्न:- पारस्परिक कौशल का उद्देश्य कार्यकुशलता में सुधार करना एवं को अधिक मूल्यवान बनाना है-
(अ)- ग्राहक
(ब)- नियोक्ता
(स)- कर्मचारी
(द)- डॉक्टर
उत्तर:- (स)- कर्मचारी

प्रश्न:- प्रभावी पारस्परिक संचार कौशल हेतु हमें नहीं होना चाहिए-
(अ)- व्यापक
(ब)- तर्कसंगत
(स)- समय से
(द)- निश्चित व परिशुद्ध
उत्तर:- (अ)- व्यापक

प्रश्न:- निम्नलिखित में से कौन सा सम्प्रेषण कौशल के मूल्यांकन क का सर्वाधिक उपयुक्त प्राचल (पैरामीटर) है?
(अ)- पृष्ठपोषण (फीडबैक)
(ब)- अवरोधमुक्त सम्प्रेषण
(स)- सरल भाषा
(द)- आमने-सामने का सम्पर्क
उत्तर:- (अ)- पृष्ठपोषण (फीडबैक)

प्रश्न:- .............. के बिना एक-दूसरे के साथ संवाद करना असंभव है?
(अ)- फोन
(ब)- आवाज़
(स)- संवाद कौशल
(द)- हाथ
उत्तर:- (स)- संवाद कौशल

प्रश्न:- अच्छे श्रोता बनने के लिए जो दो कौशल सम्बन्धित हैं, वे हैं-
(अ)- ध्यान देना तथा दिए गए संदेश के प्रति उपयुक्त सूचकों से अनुक्रिया देना
(ब)- ध्यान देना तथा प्रतिपुष्टि प्रदान करना
(स)- एक समय में एक साथ कई संदेश सुनना तथा सकारात्मक समालोचना प्रदान करना
(द)- ध्यान देना तथा जब आवश्यक हो तब अपनी अरुचि को छिपाना
उत्तर:- (ब)- ध्यान देना तथा प्रतिपुष्टि प्रदान करना

प्रश्न:- अशाब्दिक संचार में निहित हैं-
(अ)- देहभाषा, लहज़ा एवं मौन
(ब)- न्यूनतम शाब्दिक, मौन एवं मुखीय अभिव्यक्ति
(स)- भाव-भंगिमा, देह मुद्राएँ एवं भावात्मक अभिव्यक्ति
(द)- देहभाषा, मुखीय अभिव्यक्ति एवं लहज़ा
उत्तर:- (स)- भाव-भंगिमा, देह मुद्राएँ एवं भावात्मक अभिव्यक्ति

प्रश्न:- संचार प्रक्रिया में निम्नांकित में कौन-सा चरण पहले आता है?
(अ)- कूटानुवाद
(ब)- समझना
(स)- कूटलेखन
(द)- संचारण
उत्तर:- (स)- कूटलेखन

प्रश्न:- एक व्यक्ति के जीवन काल में चल रही परामर्श प्रक्रिया को किसके रूप में जाना जाता है?
(अ)- निवारक परामर्श
(ब)- विकासात्मक परामर्श
(स)- संकट परामर्श
(द)- सुविधाजनक परामर्श
उत्तर:- (ब)- विकासात्मक परामर्श

प्रश्न:- एक प्रकार की परामर्श जिसमें परामर्शदाता आश्वासन और जानकारी देने जैसी तकनीकों का उपयोग करता है. के रूप में जाना जाता है।
(अ)- अनौपचारिक परामर्श (इनफॉर्मल काउंसलिंग)
(ब)- निर्देशात्मक परामर्श (डायरेक्टिव काउंसलिंग)
(स)- गैर-निर्देशात्मक परामर्श (नॉन-डायरेक्टिव काउंसलिंग)
(द)- विभिन्नदर्शनग्राही परामर्श (इलेक्टिक काउंसलिंग)
उत्तर:- (द)- विभिन्नदर्शनग्राही परामर्श (इलेक्टिक काउंसलिंग)

प्रश्न:- एक क्लाइंट जिसके सीने में दर्द के कई प्रकरण थे, एक व्यायाम इलेक्ट्रोकार्डियोग्राम के लिए निर्धारित है। निम्नलिखित में से कौन सा कथन क्लाइंट को परामर्श देने में महत्वपूर्ण है?
(अ)- शारीरिक गतिविधि के प्रति आपके हृदय की प्रतिक्रिया की जांच करने के लिए यह गैर- आक्रामक परीक्षण है।
(ब)- यह परीक्षण आपके सीने में दर्द के वास्तविक कारण की पहचान करने का एक निश्चित तरीका है।
(स)- इस परीक्षण के निष्कर्ष एनजाइना के उपचार में न्यूनतम सहायता के होंगे।
(द)- इस न्यूनतम इनवेसिव परीक्षण से पता चलेगा कि आपका शरीर व्यायाम के प्रति कैसे प्रतिक्रिया करता है।
उत्तर:- (अ)- शारीरिक गतिविधि के प्रति आपके हृदय की प्रतिक्रिया की जांच करने के लिए यह गैर- आक्रामक परीक्षण है।

प्रश्न:- स्वास्थ्य क्लिनिक में एक नर्स कॉलेज के एक छात्र को परामर्श दे रही है जिसे हाल ही में अस्थमा का पता चला था। नर्स को देखभाल के किस पहलू पर ध्यान देना चाहिए?
(अ)- कमरे को एलर्जी मुक्त बनाना सिखाना।
(ब)- कक्षाओं में शीघ्र वापसी सुनिश्चित करने के लिए कॉलेज के साथ व्यवस्था करना।
(स)- मूल्यांकन करना कि जीवन शैली में आवश्यक परिवर्तनों को समझ लिया गया है या नहीं। 
(द)- अस्थमा से पीड़ित व्यक्तियों के लिए एक सहायता समूह का हवाला देना।
उत्तर:- (स)- मूल्यांकन करना कि जीवन शैली में आवश्यक परिवर्तनों को समझ लिया गया है या नहीं। 

प्रश्न:- निर्देशन विधि के आधार पर निर्देशन को कितने भागों में बांटा गया है-
(अ)- 5
(ब)- 4
(स)- 3
(द)- 2
उत्तर:- (द)- 2

प्रश्न:- निर्देशित परामर्श के दोष हैं-
(अ)- स्वनिर्देशन का अभाव
(ब)- परामर्शदाता पर आश्रितता
(स)- परामर्श प्रार्थी का निष्क्रिय हो जाना
(द)- उपर्युक्त सभी
उत्तर:- (द)- उपर्युक्त सभी

प्रश्न:- अनिर्देशित परामर्श के लाभ कौन-कौन से हैं-
(a) परामर्शप्रार्थी का आत्मज्ञान विकसित
(b) स्ववर्णन का अवसर
(c) समस्या समाधान की योग्यता विकसित
(d) समायोजन में सहायक
(e) परामर्श प्रार्थी स्वयं जिम्मेदार

(अ)- a,c,d,e
(ब)- b,c,d,e
(स)- a,b,d,c
(द)- a,b,c,d,e
उत्तर:- (द)- a,b,c,d,e

प्रश्न:- समन्वित परामर्श के प्रवर्तक हैं-
(अ)- मायर्स
(ब)- एफ.सी. थानें 
(स)- रूथ स्ट्रांग
(द)- कोई नहीं
उत्तर:- (ब)- एफ.सी. थानें

प्रश्न:- परामर्श की सफलता निर्भर करती है-
(अ)- परामर्शप्रार्थी की योग्यता पर
(ब)- परामर्शदाती के हठी व्यवहार
(स)- परामर्शदाती के प्रतिभा, ज्ञान तथा दृष्टिकोण पर
(द)- उपर्युक्त सभी
उत्तर:- (स)- परामर्शदाती के प्रतिभा, ज्ञान तथा दृष्टिकोण पर

प्रश्न:- परामर्श की आवश्यकता क्यों पड़ती है?
(अ)- परामर्शप्रार्थी की समस्याओं को दूर करने के लिए
(ब)- परामर्शप्रार्थी को आत्ममूल्यांकन के लिए
(स)- परामर्शदाता को परखने के लिए
(द)- (अ) और (ब) दोनों
उत्तर:- (द)- (अ) और (ब) दोनों

प्रश्न:- एक सफल परामर्शदाता के कौन-कौन से गुण हो सकते हैं-
(a) कुशलता
(b) सत्यनिष्ठता
(c) व्यक्तियों में रूचि रखना 
(d) मित्रता व व्यवहारिक
(e) खर्चीला

(अ)- a,b,c,d
(ब)- a,b,d,e
(स)- b,c,d,e
(द)- उपर्युक्त सभी 
उत्तर:- (अ)- a,b,c,d

प्रश्न:- परामर्श के कितने प्रकार होते हैं-
(अ)- 7
(ब)- 3
(स)- 6
(द)- 4
उत्तर:- (ब)- 3

प्रश्न:- समन्वित परामर्श के लाभ क्या हो सकते हैं?
(अ)- कम खर्चीला व कार्य क्षमता पर अधिक बल
(ब)- अधिक प्रभावशाली व व्यवहारिक
(स)- 'अ' और 'ब' दोनों 
(द)- कोई नहीं
उत्तर:- (स)- 'अ' और 'ब' दोनों

प्रश्न:- अनिर्देशित परामर्श के दोष हैं-
(अ)- परामर्शदाता निष्क्रिय
(ब)- अधिक समय का लगना
(स)- व्यक्तिगत सम्पर्क का अभाव
(द)- उपर्युक्त सभी
उत्तर:- (द)- उपर्युक्त सभी

प्रश्न:- निर्देशित परामर्श के लाभ कौन-कौन से हैं-
(1):- समस्या पर बल
(2):- समय की बचत
(3):- प्रत्यक्ष विधि
(4):- समस्याओ का शीघ्र हल 
(5):- अधिक स्थायी

(अ)- 1,2,3
(ब)- 3,4,5
(स)- 1,3,5
(द)- 1,2,3,4,5
उत्तर:- (द)- 1,2,3,4,5

प्रश्न:- कार्य व समस्याओं के क्षेत्र के आधार पर भारत में निर्देशन को मुख्यतः कितने प्रकारों में बांटा गया है-
(अ)- 2
(ब)- 3
(स)- 4
(द)- 5
उत्तर:- (ब)- 3

प्रश्न:- निम्न में से कौन परामर्श का सिद्धान्त नहीं है-
(अ)- संश्लेषण का सिद्धान्त
(ब)- सीखने का सिद्धान्त
(स)- व्यक्ति के साथ विचार करने का सिद्धान्त
(द)- स्वीकृति का सिद्धान्त:
उत्तर:- (अ)- संश्लेषण का सिद्धान्त

प्रश्न:- निम्न में से कौन परामर्श प्रक्रिया के पद हैं-
(1):- विश्लेषण
(2):- निदान
(3):- परामर्श
(4):- संश्लेषण

(अ)- 1,2,3
(ब)- 2,3,4
(स)- 3,4
(द)- 1,4
उत्तर:- (अ)- 1,2,3

प्रश्न:- परामर्श की विशेषताएँ हैं-
(अ)- दो व्यक्तियों का आपसी सम्पर्क
(ब)- सहायता प्रदान
(स)- समस्यापरक
(द)- उपर्युक्त सभी
उत्तर:- (द)- उपर्युक्त सभी

प्रश्न:- परामर्श की विशेषताओं में सम्मिलित है-
(अ)- वार्तालाप का स्वरूप 
(ब)- आत्मविश्वास का विकास
(स)- व्यक्तिगत प्रक्रिया
(द)- उपर्युक्त सभी
उत्तर:- (द)- उपर्युक्त सभी

प्रश्न:- किस समाजशास्त्री का कहना है कि, "मात्र व्यवसाय के लिए नहीं वरन जीवन की किसी भी समस्या के समाधान हेतु जो वैचारिक सहायता दी जाती है, वह परामर्श होती है।"
(अ)- रॉबिन्स
(ब)- रुट स्ट्रांग
(स)- मायर्स
(द)- ए. जे. जोन्स
उत्तर:- (स)- मायर्स

प्रश्न:- तृतीयक स्वास्थ्य सेवा विशेष रूप से सम्बन्धित है-
(अ)- महामारी नियन्त्रण से
(ब)- दिव्यांगता से
(स)- चिकित्सालयों में देखभाल से
(द)- स्वास्थ्य जागरुकता के प्रसार से
उत्तर:- (ब)- दिव्यांगता से

प्रश्न:- प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल की अवधारणा की सिफारिश किसके द्वारा की गई थी?
(अ)- मुदलियार समिति
(ब)- करतार सिंह समिति
(स)- मुखर्जी समिति
(द)- भोरे समिति
उत्तर:- (द)- भोरे समिति

प्रश्न:- इंडियन रेड क्रॉस सोसाइटी के सभी कार्य हैं, सिवाय इनके-
(अ)- ब्लड बैंक की सुविधा प्रदान करना
(ब)- आपदाओं के समय राहत कार्य प्रदान करना
(स)- संबंधित अनुसंधान गतिविधियों में सहायता करना और नर्सों को खुद को उन्नत करने के लिए छात्रवृत्ति प्रदान करना
(द)- कुछ सरकारी वित्त पोषित अस्पतालों को चलाना
उत्तर:- (द)- कुछ सरकारी वित्त पोषित अस्पतालों को चलाना

प्रश्न:- निम्न में से किसने टीका निर्माता मॉडर्ना के साथ कोरोनावायरस के खिलाफ अपने अंतरराष्ट्रीय टीकाकरण प्रयासों की आपूर्ति के लिए एक समझौता किया है?
(अ)- UNDP
(ब)- UNESCO
(स)- ECOSOC
(द)- UNICEF
उत्तर:- (द)- UNICEF

प्रश्न:- एक PHC आवरण करता है-
(अ)- 2 उप-केंद्र
(ब)- 4 उप-केंद्र
(स)- 8 उप केंद्र
(द)- 6 उप-केंद्र
उत्तर:- (द)- 6 उप-केंद्र

प्रश्न:- प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों (PHC) के संबंध में निम्नलिखित में से कौन सा कथन सही है?
1. वे ग्रामीण और पहाड़ी या आदिवासी क्षेत्रों में क्रमशः 30,000 और 20,000 की आबादी को सम्मिलित करते हैं। 
2. PHC केंद्र सरकार द्वारा स्थापित किए जाते हैं जबकि राज्य सरकारों द्वारा इनका रखरखाव किया जाता है। 

नीचे दिए गए विकल्पों का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिए।

(अ)- केवल 1
(ब)- केवल 2
(स)- 1 और 2 दोनों
(द)- न तो 1 और न ही 2
उत्तर:- (अ)- केवल 1

प्रश्न:- एक सीएचसी पहाड़ी क्षेत्रों में ................. की आबादी को कवर करता है।
(अ)- 30,000
(ब)- 80,000
(स)- 50,000
(द)- 10,000
उत्तर:- (ब)- 80,000

प्रश्न:- परामर्श में कम से कम कितने व्यक्तियों की लिप्तता आवश्यक होती है?
(अ)- 4
(ब)- 6
(स)- 2
(द)- 3
उत्तर:- (स)- 2

More Important Links

More Practice Set Click Here
Complete Syllabus Click Here
Join Telegram Group Join Now
Join Telegram Channel Join Now

 यह भी देखें-


अगर इस आर्टिकल से संबंधित कोई भी सवाल या सुझाव हो तो आप हमें कमेंट करके या gkpcolleges@gmail.com पर मेल करके बता सकते हैं।

Post a Comment

Thanks for your comments.

Previous Post Next Post